सरकार मारिया का साथ क्यों नहीं देती: शिवसेना

Posted on July 11 2015 by pits

मुंबई: ललित मोदी विवाद में रोज नई कड़ियां जुड़ती चली जा रही हैं। सहयोगी बीजेपी पर निशाना साधते हुए शिवसेना ने  सवाल किया कि सरकार ने ललित मोदी विवाद मामले में जिस तरह से विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे का समर्थन किया, उस तरह से वह मुंबई के पुलिस कमिश्नर राकेश मारिया का साथ क्यों नहीं देती?

शिवसेना ने कहा कि मारिया की आलोचना करने का मतलब ‘तिल का ताड़ बनाना’ होगा। पार्टी ने अपने मुखपत्र ‘सामना’ के संपादकीय में जिक्र किया कि ललित मोदी ने आईपीएल को लेकर जो किया वो विवाद का मुद्दा हो सकता है लेकिन मुंबई पुलिस कमिश्नर के पास उस स्थिति में उन्हें पकड़ने और यहां या दिल्ली ले जाने का कोई अधिकार नहीं है, जबकि वह प्रशासन की अनुमति से लंदन में रह रहे हैं।
शिवसेना ने कहा, ‘आईपीएल का किंग’ होने की वजह से कई नेताओं के साथ उनकी तस्वीरें होंगी। क्या इसका यह मतलब है कि उन सभी नेताओं के खिलाफ कार्रवाई होगी। महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चव्हाण पर निशाना साधते हुए पार्टी ने कहा कि पृथ्वीराज की टिप्पणी की उस वक्त भी अहमियत नहीं थी और आज भी कोई महत्व नहीं है क्योंकि जब कांग्रेस और एनसीपी सत्ता में थीं तो दो समानांतर सरकारें चल रही थीं। अगर मारिया ने चव्हाण को नहीं बल्कि उस वक्त के गृह मंत्री को सूचित किया था तो यह कोई मायने नहीं रखता कि उस वक्त कुछ पर्दे के पीछे चल रहा था जिनके बारे में चव्हाण को सूचित किया जाना था।’

Powered By Indic IME