मकर राशि के लिए कैसा रहेगा नया साल

Posted on March 1 2015 by pits

आने वाला नया साल आपके लिए और आपके परिवार के लिए कैसा होगा यह जानने की उत्सुकता प्रत्येक व्यक्ति को होती है। चन्द्र राशि के आधार पर आपको यह बताने की कोशिश कर रहा है कि आने वाला साल आपके लिए कैसा होगा। आमतौर पर राशि की गणना सूर्य और चन्द्र राशि के आधार पर होती है लेकिन भारतीय पराशर ज्योतिष में चन्द्र राशि को ही मान्यता है और जातक का नाम भी चन्द्र राशि के आधार पर ही तय होता है। यदि आपका नाम भो, ज, जी, खी, खे, खो, ग, गी से शुरू होता है तो आपकी चन्द्र राशि मकर है। मकर राशि के लिए आने वाला साल कुछ ऐसा रहेगा।

जनवरी
मासारम्भ से इस राशि पर मंगल उच्चस्थ हाेकर संचरित है। पुरूषार्थ करने से धन लाभ एवं उन्नति के अवसर मिलेंगे। 14 जनवरी से इस राशि पर सूर्य का संचार रहेगा। वृथा खर्च एवं पारिवारिक उलझनें बढ़ेंगी। सूर्य उपासना करना शुभ हाेगा।

फरवरी
मास के पूर्वार्द्ध भाग में इस राशि पर सूर्य, बुध का याेग बना हुआ है तथा उस पर शनि की स्वगृही दृष्टि पड़ रही है। परिवारिक उलझनाें एवं तनाव के बावजूद निर्वाह याेग्य आय के साधन बनते रहेंगे। मास के उत्तरार्ध भाग में आय कम व खर्च अधिक रहेंगे। शनि स्त्राेत का पाठ करना शुभ हाेगा।

मार्च
इस राशि में रूकावटाें के बावजूद पराक्रम में वृद्धि एवं आय के साधन बढ़ेंगे। व्यवसायिक व्यस्तताएं बढ़ेेंगी। माता पिता का सहयाेग विशेष लाभकारी हाेगा। धार्मिक कार्य करने की इच्छा जागृत हाेगी। मासान्त में विदेशी मित्राें से दान एवं सुख प्राप्त हाेगा। गुप्त शत्रुआें से सतर्क रहें। श्री दुर्गा सप्तशती तथा श्री दुर्गा कवच का नित्य पाठ करना कल्याणकारी रहेगा।

अप्रैल
राशि पर शनि की स्वगृही तथा गुरू की नीच दृष्टि पड़ रही है। विघ्न/बाधाआें के बावजूद गुजारे लायक धन प्राप्ति के साधन बनते रहेंगे। साधु-महात्मा या श्रेष्ठ जनाें के साथ सम्पर्क बनेंगे। गुरू की दृष्टि के कारण सेहत में विकार एवं धन का अपव्यय रहेगा।

मई
इस राशि पर राशिस्वामी शनि की स्वगृही तथा गुरू की नीच दृष्टि रहने से मिश्रित प्रभाव हाेंगे। संघर्ष एवं कठिनाईयाें के बावजूद निर्वाह याेग्य आय के साधन बनते रहेंगे। परिवार में धर्म-कर्म के कार्याें पर धन का खर्च हाेगा। परन्तु स्वास्थ्य कुछ ढीला एवं वृथा भागदाैड़ रहेगी।

जून
पूर्वार्द्ध भाग में धन हानि एवं किसी उच्च अधिकारी से विराेध पैदा हाेगा शरीर कष्ट व मानसिक तनाव अधिक रहेंगे। बनते कामाें में रूकावटें पैदा हाेंगी। उत्तरार्द्ध भाग में स्थिति में सुधार हाेगा। बिगड़े काम बनेंगे। निर्वाह याेग्य धन लाभ हाेगा। किसी प्रिय बन्धु से मुलाकात हाेगी परन्तु खर्च भी अधिक रहेंगे।

जुलाई
राशिस्वामी शनि की स्वगृही तथा मंगल की उच्च दृष्टि हाेने से मान-सम्मान कार्याें की आेर अभिरुचि बढ़ेगी। निर्वाह याेग्य धन प्राप्ति के साधन बढ़ेंगे, भूमि, सवारी आदि सुख-साधनाें में वृद्धि हाेगी। महिलाआें काे तनाव आैर धन की चिन्ता रहेगी। सुन्दरकाण्ड का पाठ करना शुभ हाेगा।

अगस्त
पूर्वार्द्ध भाग में धन लाभ एवं सुख साधनाें की प्राप्ति हाेगी। वृथा खर्च भी बढ़ेंगे। आमाेद-प्रमाेद आदि साधनाें में विस्तार एवं वृद्धि हाेगी। धर्म-कर्म में भी रूझान रहेगा। उत्तरार्द्ध में पारिवारिक उलझनाें के कारण मन संतप्त रहेगा। आकस्मिक खर्चाें में वृद्धि के कारण तनाव रहेगा। गुरूवार का व्रत करना शुभ हाेगा।

सितंबर
मासाम्भ में कुछ रूके हुए कार्याें में सफलता प्राप्त हाेगी। किसी मित्र की सहायता से किसी कठिन कार्य में सिद्धि हाेगी। मंगल की शुभ दृष्टि हाेने से निर्वाह याेग्य धन प्राप्ति के साधन बनेंगे। परन्तु व्यवसाय के सम्बन्ध में संघर्षपूर्ण परिस्थितियाें का सामना रहेगा। अकस्मात खर्च बढ़ेंगे।

अक्तूबर
राशिस्वामी शनि की शुभ दृष्टि पड़ रही है। हालात में सुधार व कुछ बिगड़े काम बनेंगे। उच्च प्रतिष्ठित लाेगाें से मेल-जाेल हाेगा। परन्तु संतान संबंधी चिन्ता रहेगी। 20 अक्तूबर के पश्चात् परिवार में शुभ एवं धार्मिक कार्याें पर खर्च हाेगा परन्तु भूमि-जायदाद के मतभेद दूर हाेने से विलम्ब हाेगा। श्रीविष्णु सहस्रणाम का पाठ करना शुभ हाेगा।

नवम्बर
मासारम्भ में राशि पर स्वगृही दृष्टि पड़ रही है। व्यवसाय की दृष्टि से शुभ हाेगा। नई याेजना काे कार्य रूप देने में अत्यधिक परिश्रम करना पड़ेगा। सरकारी कार्याें में कुछ विघ्नाें के उपरान्त सफलता मिलेगी। मासान्त में घरेलु एवं आर्थिक उलझनें आैर परेशानियां बढ़ेंगी। आकस्मिक खर्च भी बढ़ेंगे।

दिसम्बर
कुछ रूके हुए कार्याें में सफलता प्राप्त हाेगी। निर्वाह याेग्य धन प्राप्ति के साधन बनेंगे। बनते कामाें में अड़चनें पैदा हाेंगी। उत्तरार्द्ध भाग में व्यवसाय के सम्बन्ध में संघर्षपूर्ण परिस्थितियाें का सामना रहेगा। अपने भी परायाें जैसा व्यवहार करेंगे। शनि स्त्राेत का पाठ करना शुभ हाेगा।

अगले सप्ताह कुंभ राशी का भविष्य

Powered By Indic IME