भारत बनाएगा प्लास्टिक कचरे से पेट्रोल-डीजल

Posted on November 6 2014 by pits

नई दिल्ली: प्लास्टिक के कचरे की समस्या से निपटने और पेट्रोल-डीजल की किल्लत को दूर करने की दिशा में भारतीय शोधकर्ताओं को एक बड़ी कामयाबी मिली है. इसके तहत भारत जल्द ही प्लास्टिक को उच्च गुणवत्ता वाले पेट्रोल-डीजल में बदलने में कामयाब हो जाएगा. यह उपलब्धि देहरादून स्थित भारतीय पेट्रोलियम संस्थान के शोधकर्ताओं ने हासिल की है.

गौरतलब है कि संस्थान ने देश में पहली बार ऐसी तकनीक विकसित की है जो प्लास्टिक के कचरे को पेट्रोलियम उत्पादों में तबदील कर देती है. यह ग्रीन तकनीक अब तक जर्मनी, जापान और अमरीका के पास ही थी जबकि ऑस्ट्रेलिया और ब्रिटेन में इस पर काम ही चल रहा है.

बता दें कि संस्थान के निदेशक एम.ओ.गर्ग के अनुसार पेट्रोल की देशभर में कीमत इस समय 70 से 80 रुपए प्रति लीटर तक है लेकिन यदि इस तकनीक से पेट्रोल निकाला जाता है तो उसकी कीमत 30 से 40 रुपए प्रति लीटर पड़ेगी जिसमें संयंत्र की कीमत, ऑप्रेशंस, श्रमशक्ति और जमीन की कीमत भी शामिल है.

Powered By Indic IME