उपचुनाव के नतीजों से कांग्रेस को मिली संजीवनी

Posted on September 22 2014 by pits

नई दिल्ली: कई राज्यों में हुए उपचुनाव में सत्तारूढ़ भाजपा निराशाजनक प्रदर्शन से दिल्ली में कांग्रेस के नेताओं के हौसले एकाएक बुलंद हो गए हैं. उनका कहना है कि दिल्ली में विधानसभा भंग होने के बाद चुनाव होने पर अब सीधा मुकाबला भाजपा और कांग्रेस के बीच ही होगा. गौरतलब है कि उपचुनाव परिणामों को कांग्रेस के लिए संजीवनी जबकि भाजपा के लिए खतरे की घंटी माना जा रहा है.

वहीँ दूसरी ओर प्रदेश कांग्रेस के नेताओं का कहना है कि जिस तरह से उत्तर प्रदेश और राजस्थान में भाजपा को हार का सामना करना पड़ा है उससे साफ हो गया है कि खोखले वादे कर जनता को ज्यादा दिनों तक गुमराह नहीं किया जा सकता. सत्ता पर काबिज हुई भाजपा के गुब्बारे की हवा निकलनी शुरू हो गई है.

कांग्रेस के महासचिव व दिल्ली के प्रभारी डा.शकील अहमद ने उपचुनाव के परिणाम पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि दिल्ली में भी अब हालात तेजी से बदल रहे हैं. बहुत जल्द कांग्रेस की स्थिति पहले जैसी ही नजर आएगी. दिल्ली में विकास के काम ठप्प होने की वजह से जनता परेशान है.

बता दें कि दिल्ली में कांग्रेस विधायक दल के नेता हारुन यूसुफ ने कहा कि देश में कोई भी धर्म के नाम पर राजनीति नहीं चाहता. जनता महंगाई से निजात चाहती है और देश का युवा रोजगार चाहता है लेकिन इन दोनों ही मुद्दों पर सरकार पूरी तरह से असफल साबित हो रही है. उपचुनाव में कांग्रेस की सफलता पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए उन्होंने कहा कि राजस्थान, गुजरात और उत्तर प्रदेश की जनता ने साफ कर दिया है कि भाजपा के गुब्बारे की हवा निकलनी शुरू हो गई है. हारुन के अनुसार देश में आज 65 प्रतिशत युवा मतदाता हैं जो देश की तरक्की चाहते हैं. उन्होंने कहा कि दिल्ली के युवा इस बात को महसूस कर रहे हैं कि यह सरकार उनके सपने साकार करने में विफल हो रही है.

वहीँ प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता मुकेश शर्मा ने कहा कि यह भाजपा के लिए खतरे की घंटी है. अब दिल्ली में जब कभी भी चुनाव होगा उसमें सीधा मुकाबला भाजपा और कांग्रेस के बीच ही होगा. विधायक जयकिशन का कहना है दिल्ली में भी भाजपा और आप की उल्टी गिनती शुरू हो गई है. अब जनता किसी बहकावे में आनेवाली नहीं है. वरिष्ठ विधायक चौ.मतीन अहमद ने कहा कि उपचुनाव परिणाम से साफ हो गया है कि मोदी लहर खत्म हो रही है और अब जनता को अच्छे-बुरे का अहसास होना शुरू हो गया है. उन्होंने कहा कि इस चुनाव में कांग्रेस को मिली शानदार जीत इस बात को साबित करती है कि कांग्रेस फिर से लोगों के दिलों में जगह बना रही है. चौ. मतीन के अनुसार उन्हें नहीं लगता है कि अब किसी भी सूरत में दिल्ली में भाजपा की सरकार बनेगी. कांग्रेस और आम आदमी पार्टी के साथ-साथ दिल्ली की जनता भी अब चुनाव कराने के ही पक्ष में दिख रही है.

Powered By Indic IME