4 साल की उम्र में वजन 44 किलो, कमर 36 इंच, सोता है सिर्फ बैठकर

Posted on May 31 2014 by yogesh

कोलकाता : झारखंड के पड़ोसी राज्य पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता का ऋषि खटाऊ महज चार वर्ष का है लेकिन इतनी सी उम्र में वजन 44 किलो है. मोटापा इतना अधिक हो गया कि सामान्य लोगों की तुलना में वह सिर्फ 65 प्रतिशत ऑक्सीजन हीले पाता है. नींद में तो और भी कम, मात्र 42 प्रतिशत. पिता दिपेन और मांहिना खटाऊ ऋषि की परेशानी समझ नहीं पाए और नेजल ड्रॉप डालकर उसे सुलाने की कोशिश करते रहे हैं. हालत यह है कि परेशान ऋषि बैठकर ही नींद लेने को मजबूर है. कई महीनों तकवह सोफे पर बैठे-बैठे ही सोया है.

बता दें कि ऋषि का वजन जन्म के समय मात्र 1.6 किलो का था. मां हिना खटाऊ बताती हैं कि डॉक्टर की सलाह पर मैंने हर दो घंटे में ऋषि को दूध देना शुरू किया. डेढ़ साल तक उसके खाने-पीने का खास ध्यान रखा लेकिन इससे उसे हर समय खाने की आदत पड़ गई. ऋषि जब दो साल का हुआ तो हम डरने लगे कहीं ऋषि की ये आदत जानलेवा न हो जाए. उसकी कमर 36 इंच हो चुकी थी और पिता की टी-शर्ट उसे फिटआने लगी थी.इस दौरान इलाज की भी काफी कोशिश की गई, लेकिन ऋषि का कोई स्थायी इलाज नहींकर पाया.

इतना जरूर बताया गया कि यदि जल्द ही कुछ नहीं किया गया तो वह अपनाअगला जन्मदिन नहीं मना पाएगा. अपने एक दोस्त की सलाह पर दिपेन ऋषि को लेकर अहमदाबाद के एक अस्पताल पहुंचे. हाल ही में उसका वहां ऑपरेशन कराया गया है. बताया गया है कि कुछ समय मेडिकल ट्रीटमेंट के बाद वह सामान्य बच्चों की तरह रह सकता है. ऑपरेशन करने वाले डॉ. महेंद्र नारवारिया ने बताया कि ऋषि को प्रेराडरबिली संड्रोम है जो बीस हजार लोगों में से किसी एक को होता है. यह एकजेनेटिक डिसऑर्डर हैजिसमें पेट की मांसपेशियां ढीली पड़ जाती हैं और मरीज बार-बार कुछ खाना चाहता है.

Powered By Indic IME