५० हजार की स्कूटर और ७ लाख का नंबर

Posted on March 25 2013 by yogesh

कुछ लोग अपनी बात पूरी करने के लिए किसी भी हद तक जा सकते हैं और अपने शौक के लिए कौड़ियों के भाव बिकनेवाले चीजों को भी अनमोल बना देते हैं. इसी तर्ज पर पंजाब के होशियारपुर के गांव कत्तोवाल के एक किसान कुलबीर सिंह ने हजारों में मिलनेवाली चीज को लाखों में खरीद लिया. गौरतलब है कि इस किसान ने ५० हजार के स्कूटर के नंबर के लिए ७ लाख रूपये खर्च कर दिए हैं.

परिवहन विभाग की ओर से एक फैंसी नंबरों की बोली लगवाई गई थी. कुलबीर ने अपने स्कूटर के लिए मनचाहा नंबर पीबा 07 एके-47 पाने के लिए सात लाख रूपये की बोली लग दी. यह नंबर पाने के लिए बोली लगानेवालों में १६ प्रतियोगी शामिल थे.

नंबर का रिजर्व प्राइस १००० रूपये रखा गया था लेकिन पहली बोली ही ५००० रूपये से शुरू हुई. देखते ही देखते यह बोली हजारों से लाखों में बदल गई. जब बोली ३ लाख के पार चली गई तो बोली के मैदान में केवल ५ लोग रह गए. इसके बाद कुलबीर सिंह ने सात लाख की बोली लगाकर सभी की बोलती बंद कर दी और नंबर पर एकाधिकार कर लिया. इसके बाद और भी नंबरों की बोली लगी लेकिन ८१,००० रूपये से ज्यादा किसी भी नंबर की बोली नहीं लगी.

नंबर हासिल करने के बाद कुलबीर सिंह का कहना था कि उनके पास ४७ नंबर वाली और भी दो गाडियां हैं लेकिन इस नंबर की बात ही जुदा है. वो कहते हैं ना शौक बड़ी चीज होती है.

Powered By Indic IME