शहीद डीएसपी की पत्नी ने स्वीकार की नौकरी

Posted on March 25 2013 by yogesh

लखनऊ : पिछले दिनों उत्तर प्रदेश में शहीद हुए पुलिस उपाधीक्षक जिया-उल-हक के हत्याकांड ने प्रदेश की राजनीति में उथल पुथल मचा रखी थी. अब उनकी पत्नी ने राज्य सरकार द्वारा दी गई नौकरी स्वीकार कर ली है और पुलिस महानिदेशक कार्यालय में विशेष कार्याधिकारी(पुलिस कल्याण) का पद संभाल लिया है. पुलिस महानिरीक्षक(कानून-व्यवस्था) राजकुमार विश्वकर्मा ने पत्रकारों को बताया कि प्रतापगढ़ के कुंडा पुलिस क्षेत्र के उपाधीक्षक क्षेत्राधिकारी जिया-उल-हक की पत्नी परवीन आजाद ने लखनऊ में विशेष कार्याधिकारी का पद ग्रहण कर लिया है.

गौरतलब है कि इसके पहले परवीन ने राज्य सरकार द्वारा विशेष कार्याधिकारी(पुलिस कल्याण) की नौकरी की पेशकश को नामंजूर कर दिया था क्योंकि उन्हें अपने पति के पद यानी पुलिस उपाधीक्षक के अलावा कोई और पद मंजूर नहीं था.

आपको बता दें कि गत दो मार्च को प्रतापगढ़ के कुंडा स्थित बलीपुर गांव में ग्राम प्रधान नन्हें यादव की हत्या के बाद मौके पर पहुंचे पुलिस उपाधीक्षक जिया-उल-हक की भीड़ में शामिल कुछ लोगों ने हत्या कर दी थी. घटनास्थल से मृतक ग्राम प्रधान के भाई सुरेश का शव भी बरामद किया गया था. गौरतलब है कि जिया-उल-हक की हत्या की साजिश में तत्कालीन खाद्य एवं रसद मंत्री रघुराज प्रताप सिंह पर आरोप लगे थे जिसके बाद उन्होंने पद से इस्तीफा दे दिया था.

Powered By Indic IME