भारत से रिश्ते को ज्यादा महत्व देगा चीन – शी चिपनिंग

Posted on January 23 2013 by yogesh

बीजिंग : भारत-चीन रिश्तों में कई मोड़ आए हैं लेकिन अब चीन के नए नेता शी चिपनिंग ने प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को आश्वासन दिया है कि बीजिंग भारत के साथ रिश्तों को ज्यादा महत्व देगा. यह इसलिए क्योंकि द्विपक्षीय सहयोग दोनों देशों के लोगों के लिए बहुत फायदेमंद है. प्रधानमंत्री को शी द्वारा लिखे पत्र में कहा गया है कि, ’चीन हमेशा से करते रहा है और आगे भी भारत के साथ रिश्ते के विकास को ज्यादा महत्व देगा और उसे द्विपक्षीय संबंधों को उज्वल बनाने के लिए भारत के साथ करीबी सहयोग की उम्मीद है.’ यह पत्र ११ जनवरी को शीर्ष चीनी राजनयिक दाई बिंगो ने मनमोहन सिंह को नई दिल्ली में दिया.

सरकारी समाचार एजेंसी शिंहुआ ने शी को यह कहते हुए उद्धृत किया कि चीन-भारत संबंधों में पिछले कुछ वर्षों में स्थिरता रही है जिससे दोनों देशों और उनकी जनता को लाभ हुआ है. चीन और भारत के समान विकास के लिए दुनिया में पर्याप्त गुंजाइश है और दुनिया को भी समान विकास की जरूरत है. आपको बता दें कि नई दिल्ली में ब्राजील, रूस, भारत, चीन और दक्षिण अफ्रिका के शीर्ष सुरक्षा अधिकारियों की बैठक हुई थी. इसी सिलसिले में भारत-चीन सीमा वार्ता के प्रमुख वार्ताकार दाई बिंगो नई दिल्ली आए हुए थे. सिंह के साथ बैठक में दाई ने कहा कि पिछले दस साल में चीन और भारत के द्विपक्षीय संबंधों में कई बड़े घटनमाक्रम हुए हैं.

गौरतलब है कि दोनों देशों ने अपने विवादों और तथा मतभेदों को काबू में रखा और द्विपक्षीय संबंधों को विकास की ओर अग्रसर किया. दाई के अनुसार अगले पांच से दस साल में चीन-भारत के सामने अपने संबंधों के विकास के लिए रणनीतिक तौर पर महत्वपूर्ण मौके आएंगे. दाई ने दोनों देशों के बीच अच्छे संबंध बने रहने की उम्मीद जताई और यह भरोसा भी दिलाया कि दोनों देशों के नेताओं के मार्गदर्शन में चीन भारत संबंधों का अच्छी तरह विकास होगा.

Powered By Indic IME