सेक्स टिप्स – उम्र के अनुसार बढ़ती घटती संभोग की चाहत

Posted on October 29 2012 by yogesh

संभोग की चाहत होना मानव जीवन की एक सामान्य बात है. लेकिन आपको बता दें कि संभोग की इच्छा में भी उम्र की वजह से बदलाव आते हैं. महिलाओं और पूरूषों में यह इच्छा समय के साथ साथ बदलती रहती है, कभी घटती है तो कभी बढ़ती है.एक सर्वे के अनुसार ३० की उम्रवाली महिलाओं को इसी उम्र के पुरूषों की अपेक्षा ज्यादा संभोग की इच्छा होती है. आईए जानते हैं एक्सपर्ट्स की नज़र में पुरूषों और महिलाओं में उम्र के २० वें साल से ५० वें साल तक संभोग की इच्छा से संबंधित कैसे परिवर्तन आते हैं.

उम्र के २०वें साल में सेक्स की चाहत…

महिलाओं को उम्र के २० वें पड़ाव में नियमित पीरियड्स होते हैं जिसकी वजह से संभोग संबंधित उनकी भावनाएं बदलते रहती हैं. वहीं उम्र के इस पड़ाव में कुछ महिलाएं अपने शरीर में आनेवाले बदलाव से चिंतित रहती है और कई महिलाएं अपने वजूद और सही साथी की तलाश में रहती हैं जिससे उन्हे इस उम्र में संभोग की भावना से ज्यादा नहीं जुड़ी रहती हैं.

वहीं दूसरी ओर पुरूष इस उम्र में पुरूषों में संभोग करने की इच्छा सबसे ज्यादा होती है. वह इस उम्र में उन्हें कुछ नया करने की चाहत भी खूब रहती है. इसके पीछे कारण हैं अच्छी सेहत, जवान और नया रिलेशनशिप जो पुरूषों में और भी ज्यादा उत्साह भर देती है.

उम्र के ३०वें साल में संभोग की चाहत…

महिलाएं उम्र के इस पड़ाव में एक शादीशुदा और टिकाऊ रिश्ते के लिए मानसिक और शारीरिक दोनों रूप से परिपक्व रहती हैं. जहां एक्सपर्ट का ऐसा मानना है कि इस उम्र में महिलाओं को संभोग करने की इच्छा सबसे ज्यादा होती है वहीं दूसरी ओर इसी उम्र में बच्चों की परवरिश की चिंता, परिवार और करियर की चिंता संभोग की भावना को कम कर देते हैं.

वहीं इस उम्र के पुरुषों में शादी, बच्चे और करियर की चिंता ज्यादा हावी रहती है. इन्ही कारणों से वह इस उम्र में तनाव में रहते हैं और थका हुआ महसूस करते हैं. साथ ही इसी उम्र में ज्यादातर पुरुष धुम्रपान और शराब पीना शुरू कर देते हैं जिससे उनकी संभोग इच्छा कम होने लगती है.

उम्र के ४०वें साल में संभोग की चाहत…

इस पड़ाव में महिलाओं में हॉर्मोनल स्तर कम होने लगता है लेकिन यही समय संभोग की इच्छा को दोबारा जगाने का भी होता है. क्योंकि इस उम्र में बहुत सी महिलाएं खुद को बच्चों की जिम्मेदारी और आर्थिक समस्याओं से दूर पाती हैं और जिसकी वजह से उनकी रूची संभोग के प्रति फिर से जागने लगती है.

वहीं ज्यादातर पुरूष इस समय अपने करियर में सेटल हो चुके होते हैं और सभी चीजों को अपने मन के मुताबिक करना चाहते हैं. इस उम्र में वह समय और एनर्जी दोनों ही भरपूर तरह से महसूस करते हैं.

उम्र के ४०वें साल में संभोग की चाहत…

इस उम्र में महिलाएं मोनोपॉज का सामना करती हैं लेकिन इसकी वजह से वह खुद को पीरियड्स और कॉन्ट्रसेप्टिव की तमाम झंझटों से खुद को आजाद समझती हैं. उन्हे लगता है कि यह उम्र उनके लिए फिर से संभोग करने की इच्छा लेकर आया है.

इस उम्र में पुरूष ब्लड प्रेसर, मधुमेह जैसी समस्याओं से घिरने लगते हैं और इसकी वजह से कई बार कुछ दवाएं उनमें इरेक्टाइल डिस्फंक्शन कर देती है. जिसकी वजह से उनकी संभोग के प्रति चाह कम होने लगती है.

Powered By Indic IME