यूपीए के तीन सlल पूरे होने के उपलक्ष्य मे जनता को दिया तोहफा पेट्रोल के दाम आसमान पर

Posted on May 28 2012 by pits

मुंबई (पिट्स प्रतिनिधि)- यूपीए सरकार जनता को रुलाने का एक मौका नही छोडती, चाहे वो सब्जियो के बढ़ते दाम हो या फिर पेट्रोल के बेहिसाब बढ़ते दाम. आम इंसान तो जैसे चैन से जीना भुल ही तया है. महंगाई के इस दौर मे जहां आम इंसान यह उम्मीद लगाए बैठा है कि शायद सरकार की तरफ से कोई राहत भरी खबर उसे सुनने को मिले वही दुसरी ओर सरकार उसकी इस उम्मीद पर महंगाई नामक हथौंडा मार देती है. एक बार फिर यूपीए सरकार ने पेट्रोल के दाम बढा़कर जनता को बडी खाई मे ढकेल दिया.

पहले से महंगाई की मार झेल रही जनता बुधवार की अधी रात से बढ़े पेट्रोल के दामो से यह नही समझ पा रही है कि वो करे तो क्या करे. सरकार ने पेट्रोल की कीमत मे 7.50 रूपये का इजाफा किया है. बजट सत्र के खत्म होने बाद से ही ऐसी बात हो रही थी कि शायद पेट्रोल के दाम बढ़ सकते है और हुआ भी कुछ ऐसा ही. दिसंबर 2011 मे आखिरी बार तेल कंपनियो ने पेट्रोल के दाम बढाएं थे. वित्त मंत्री प्रणब मुखर्जी ने दोनो सदनो को उत्तर देते हुए कहा है कि यदि जल्द ही कोई कदम नही उठाया गया तो स्थिती और भी बिगड सकती है. उन्होंने यह भी कहा है कि इन किमतो का सारा भार उपभिक्ता पर ना गिरे इसलिए इसे केंद्र, राज्य सरकार और उपभोक्ता मे विभाजीत किया जाए.

डॉलर के मुकाबले रुपयो मे गिरावट तेल कंपनियो की चिंता बढा़ दी है. देश मे ईंधन की जरूरत को पूरा करने के लिए कुल मांग का करीब 70 प्रतिशत आयात किया जाता है. इंडियन ऑयल कॉरपरेशन लिमिटेड के अध्यक्ष आरएस बुटोला का कहना है कि वर्तमान समय मे तेल कंपनियो को करीब आठ रुपये का नुकसान हो रहा है. पर अगर इस तरह पेट्रोल के दाम ऐसे ही बढते रहे तो आम जनता को कई परेशानियां हो सकती है.

शहरो मे पेट्रोल की कीमतें:-

शहरपुरानी कीमतनई कीमत
मुंबई70.6678.21
दिल्ली65.6473.14
कोलकाता70.0377.53
चेन्नई69.5577.05

महाराष्ट्र मे पेट्रोल की कीमत:-

 पुरानी कीमतनई कीमत
मुंबई70.6678.21
ठाणे73.3481.84
पुणे70.9178.57
नाशिक70.7578.25
नागपुर73.1080.60
औरेगाबाद69.7779.24
सोलापुर74.0581.34
Powered By Indic IME