लाइफलाइन ने ली ३ लोगों की जान…

Posted on April 23 2012 by pits

मुंबई (पिट्स प्रतिनिधि): आज के भागम भाग भरी ज़िंदगी में लोगों के पास इतना भी समय नहीं कि वह अपनी कीमती ज़िंदगी के बारे में सोचें. लोगों को बस तय समय में अपनी मंजिल तक पहुंचना होता है. यही वजह है कि मध्य रेलवे से तीन यूवकों की जान चली गई. मुंबई की लाइफलाइन कहे जानेवाली लोकन ट्रेन मुंबईकरों के लिए जानलेवा बनती जा रही है. ट्रेनों में बढ़ती भीड़ की वजह से लोगों को काफी दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है. गुरुवार को ट्रेन से गिरकर २५ लोग जहां घायल हो गए वहीं ३ लोगों को अपने जान से हाथ धोना पड़ा. घायल यात्रियों को नजदीक के अस्पतालों में भर्ती करा दिया गया. मृतकों में प्रतीक छेड़ा(२४)डोंबिवली, जितेन सुरेंद्र वोरा(२९)कलवा और गणेश कुमार शंकर यादव(२०)मुलुंड के नाम है.

मध्य रेलवे के कुर्ला और विद्याविहार स्टेशन के बीच मंगलवार रात स्वचलित सिग्नल प्रणाली में आग लग जाने से पूरी सेवा लगभग ठप्प पड़ गई थी. बुधवार को सतही स्तर पर काम होने के साथ साथ लाइफलाइन पटरी पर आ रही है. गुरुवार को लगभग ९० लोकल रद्द कर दी गई और ज्यादातर ट्रेनें २०-२५ मिनट की देरी से चल रहीं थी. इसकी वजह से ट्रेने भेढ़-बकरियों की तरह ठसाठस भरी हुई थीं और जिसका खामियाजा इन तीनों यूवकों को भूगतना पड़ा. इस पूरे हादसे में रेल प्रशासन अपनी गलती मानने को तैयार नहीं है और पूरी जिम्मेदारी यात्रियों के सर मढ़ रही है. रेलमंत्री ने मुकुल रॅाय मृतकों के परिजनों को २-२ लाख रुपये मुआवज़ा देने का ऐलान किया है.

Powered By Indic IME