सप्ताह की खास मुलाकात प्रकाश जावडेकर( प्रवक्ता, भाजपा)

Posted on February 29 2012 by pits

काँग्रेस भ्रष्टाचार की गंगोत्री है- प्रकाश जावडेकर

भारतीय जनता पार्टी के प्रवक्ता और राज्यसभा सांसद प्रकाश जावडेकर उनका का एक अलग अंदाज रहा है. वह हमेशा ही विपक्ष पर प्रभाव डालते आए हैं. उनके सोच और विचार से पक्ष को काफी सफलताएं प्राप्त हुई हैं. हाल मे चल रहे अनेक मुद्दों पर हमारे संवाददाता गौतम कोरडे ने उनसे बात की. उनसे हुए बातचीत के कुछ अंश.

लोकपाल बिल के बारे में आपका क्या कहना है?

भ्रष्टाचार के खिलाफ काँग्रेस कोई लड़ाई नही लड़ना चाहता क्योंकि काँग्रेसी भ्रष्टाचार का पर्यायवाची शब्द है, यह भ्रष्टाचार की गंगोत्री है इसलिए यह बहाने बना रहे हैं.लोकपाल बिल को लंबा करना चाहते हैं इसलिए इसमें ऐसे ऐसे प्रिविजन डाल रहे हैं जो सुप्रिम कोर्ट मे नही चलेगा और जिसे आगे चलकर सुप्रिम कोर्ट खारिज कर देगा. इस तरह यह बिल कभी पास ही नही हो पायेगा.

भ्रष्टाचार के खिलाफ अन्ना जब मुंबई में अनशन पर बैठे थे तो भाजपा ने साथ क्यों नही दिया?

ऐसी कोई बात नही है कि भाजपा ने साथ नही दिया, इस देश में भ्रष्टाचार के खिलाफ जो कोई भी आंदोलन करेगा भाजपा उसका पक्ष लेगी. हम भी अन्ना के साथ हैं यदि वो हमें बुलाते तो हम जरूर जाते. क्योकि हर संगठन का अपना अपना दायरा है और उसी को मद्देनजर रखते हुए वह अपनी रणनीति बनाता है. उन्होने हमें नही बुलाया,उसके लिए हमारी कोई आपत्ती नही है. हम भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई जारी रखेगे.

 

पाँच राज्यों में जो चुनाव होनेवाले हैं, आपको क्या लगता है भाजपा की सत्ता आएगी?

उत्तराखंड और पंजाब में हम हमारी सत्ता बरकरार रखेंगे. गोवा मे हम काँग्रेस से सत्ता छीन लेगे. उत्तरप्रदेश मे हमारे १०० से ज्यादा उम्मीदवार चुनकर लाएगे जो निर्णय प्रक्रीया मे सक्रीय भूमिका निभाएंगे. मणिपुर में भी हमारी सत्ता बनेगी. इसी तरह २०१२ मे भाजपा मुख्य केद्र मे होगी.

 

काँग्रेस की तरह भाजपा में भी परिवारवाद की बात चल रही है, इस बारे में आपका क्या कहना है?

भाजपा काँग्रेस की तरह परिवारवादी नही है क्योकि आज भी काँग्रेस गांधी परिवार के बिना चल नही पा रहा. भाजपा के वरिष्ठ नेता अटलजी उनकी कोई भी फ़ैमिली नही है और बीजेपी में हमारा कार्यकर्ता ही नेता बनता है जैसे व्यंकैय्या नायडूजी, आडवानीजी, राजनाथ सिंहजी, नितिन गडकरीजी हैं. इन बातों को मद्देनजर रखते हुए यह कहा जा सकता है कि काँग्रेस की तरह भाजपा परिवारवादी नही है.

केंद्र और राज्य में भाजपा में गुटबाजी चल रही है, उसके बारे में आपकी क्या राय है?

ये सब गलत बाते हैं, अफवाहे हैं. भाजपा में कोई भी गुटबाजी और कोई भी मतभेद नही हैं. यह एक सक्षम पार्टी है जो सभी कार्यकर्ताओं को साथ लेकर चलती है. ये सब अफवाहे हैं, ये कोई मुद्दा ही नही है.

 

आरपीआई, भाजपा, शिवसेना गठबंधन मुंबई महानगरपालिका में आपकी सत्ता ला सकता है क्या?

पिछले १५ सालों से सेना, भाजपा मुंबई के अलग अलग सवालो पे बहुत ही अच्छा काम कर रही है और गठबंधन होने के कारण इस बार भी लोग हमें ही मुंबई महानगरपालिका मे जीतकर लाएंगे.

कुपोषण की समस्या से देश आजाद क्यों नही हो पा रहा है?

भ्रष्ठ काँग्रेस सरकार होने के कारण ही वह जो भी गरीबी निर्मुलन का कार्यक्रम करती है, वह संपुर्ण रुप से सफल नही हो पाता है. गरीबों के नाम पर हमेशा से ही काँग्रेस अपना पल्ला झाड़ती आई है. इसी के कारण कुपोषण की समस्या अभी भी देश में बरकरार है.

 

भाजपा मनसे के साथ गठबंधन करनेवाली है क्या?

मनसे को साथ में लेने की कोई आवश्यकता नही है क्योंकि तीन पार्टियो की महायुती पहले से ही बन चुकी है और हम सक्षम हैं हमारे उम्मीदवार चुनकर लाने में.

Powered By Indic IME